Type Here to Get Search Results !

Home Ads 2

सुन रे पाकिस्तान Sun Re Pakistan | Lila Ram Sahu CG Author लीला राम साहू, देवगांव फिंगेश्वर

 सुन रे पाकिस्तान Sun Re Pakistan Lila Ram Sahu DeshBhakti Poem

सुन रे पाकिस्तान Sun Re Pakistan  Lila Ram Sahu CG Author लीला राम साहू, देवगांव फिंगेश्वर
सुन रे पाकिस्तान Sun Re Pakistan

सुन रे पाकिस्तान

थोक बहुत बांचे होही तोर ईमान

कतको समझाय ले नई माने बईमान।।


कुकुर के पुछी हरे पाकिस्तान

पड़ोसी होके पड़ोसी के धरम कभू नई निभाय।।


हमर बर गड्ढा खने अपने ह झपाय

रही रही के करत रथे गोला बारी।।


अपने हरे चोर अउ हमर करथे चारी

आतंकवादी मनला दमांद कस खवाथस पियाथस।।


अउ भीख मांगे बर कटोरा धर के चीन अउ अमरीका डाहर जाथस

कभू करे घुसपैठ कभू करे सिजफायर।।


कभू नई चेते रे पाकिस्तानी कायर

निर्दोष जनता अउ जवान उपर गोली चलाथस।।


लड़े बर तो सकस नहीं पीठ देखा के भाग जाथस

सहत भर ले सहत हन जुहर मनमानी।।


जब हमन भिड़बो त निपट जाहू रे पाकिस्तानी

बहुत होगे तुहर गोला बारी अउ बम।।

फेर झन भूला बाप हरन तोर हम।


- लीला राम साहू, देवगांव फिंगेश्वर

Sun Re Paakistaan

Thok Bahut Baanche Hohee 

Tor Eemaan Katako Samajhaay Le Naee Maane Baeemaan.. 


Kukur Ke Puchhee Hare Paakistaan Padosee Hoke 

Padosee Ke Dharam Kabhoo Naee Nibhaay.. 

Hamar Bar Gaddha Khane Apane Ha Jhapaay Rahee 

Rahee Ke Karat Rathe Gola Baaree.. 


Apane Hare Chor Au Hamar Karathe Chaaree 

Aatankavaadee Manala Damaand Kas Khavaathas Piyaathas.. 

Au Bheekh Maange Bar Katora Dhar Ke 

Cheen Au Amareeka Daahar Jaathas 


Kabhoo Kare Ghusapaith Kabhoo Kare Sijaphaayar.. 

Kabhoo Naee Chete Re Paakistaanee 

Kaayar Nirdosh Janata Au Javaan Upar Golee Chalaathas.. 

Lade Bar To Sakas Nahin Peeth Dekha Ke Bhaag Jaathas 

Sahat Bhar Le Sahat Han Juhar Manamaanee.. 


Jab Haman Bhidabo Ta Nipat Jaahoo Re Paakistaanee 

Bahut Hoge Tuhar Gola Baaree Au Bam.. 

Pher Jhan Bhoola Baap Haran Tor Ham. 

- Leela Raam Saahoo, Devagaanv Phingeshvar

संगवारी मन ला हमर यह लिखे गए पोस्ट ह कैसे लगीस कमेंट के माध्यम से जरूर बताहू औउ एला दूसर के संग शेयर करेला भुलाहु मत.

आप मन एला व्हाट्सएप औउ फेसबुक टि्वटर या टेलीग्राम जैसे सोशल मीडिया म शेयर कर सकत हव,

जेकर से यह छत्तीसगढ़ के कोना-कोना म पहुंच सके,अउ सब्बोजन एकर पढ़ के आनंद ले सके.

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Get in Touch Join Whatsapp

ग्रुप लिंक

 

 

  • अपनी शायरी, जोक्स, कविता हमें भेजने के लिए निचे दिए गए अपलोड बटन में क्लिक करके भेजे.
  • अगर आपके द्वारा भेजे गए कविता, जोक्स, शायरी अच्छी रहेगी तो हम उसे वेबसाइट में पब्लिश कर देंगे.
  • instagram follow page

    Below Post Ad