Type Here to Get Search Results !

Home Ads 2

मोर भारत महान Mor Bharat Mahan CG Poem Author - Sharad Singh | Ambikapur

 मोर भारत महान Mor Bharat Mahan CG Poem/Kavita

मोर भारत महान Mor Bharat Mahan CG Poem Author - Sharad Singh  Ambikapur
मोर भारत महान Mor Bharat Mahan CG Poem

झन पूछौ जमाना ले, का हमर कहानी हे।

हमार पहचान तो बस एतनेच हे कि हमन सब हिंदुस्तानी हें।


देहतहन सलामी ए तिरंगा ला

जेखर में हमर शान हे


सर ऊंचा रखबो एखर

जब तक हमर अंदर जान हे


दिल हमर एक हे अउ एक हमर जान,

हिंदुस्तान हमर हे हम एकर शान,


जान लुटा देबो देश पर हो जाबो कुर्बान,

एहिच बर हमन कथन- मोर भारत महान।


जम्मो देशवासी मन ला स्वतंत्रता दिवस के बधई।

- शरद सिंह, अम्बिकापुर

Jhan Poochhau Jamaana Le,

Ka Hamar Kahaanee He. 

Hamaar Pahachaan To Bas Etanech He 

Ki Haman Sab Hindustaanee Hen. 


Dehatahan Salaamee E Tiranga La 

Jekhar Mein Hamar Shaan He 

Sar Ooncha Rakhabo Ekhar 

Jab Tak Hamar Andar Jaan He 


Dil Hamar Ek He Au Ek Hamar Jaan, 

Hindustaan Hamar He Ham Ekar Shaan, 

Jaan Luta Debo Desh Par Ho Jaabo Kurbaan, 

Ehich Bar Haman Kathan- Mor Bhaarat Mahaan. 


Jammo Deshavaasee Man La Svatantrata Divas Ke Badhee. 

- Sharad Sinh, Ambikaapur

संगवारी मन ला हमर यह लिखे गए पोस्ट ह कैसे लगीस कमेंट के माध्यम से जरूर बताहू औउ एला दूसर के संग शेयर करेला भुलाहु मत.

आप मन एला व्हाट्सएप औउ फेसबुक टि्वटर या टेलीग्राम जैसे सोशल मीडिया म शेयर कर सकत हव,

जेकर से यह छत्तीसगढ़ के कोना-कोना म पहुंच सके,अउ सब्बोजन एकर पढ़ के आनंद ले सके.

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Get in Touch Join Whatsapp

ग्रुप लिंक

 

 

  • अपनी शायरी, जोक्स, कविता हमें भेजने के लिए निचे दिए गए अपलोड बटन में क्लिक करके भेजे.
  • अगर आपके द्वारा भेजे गए कविता, जोक्स, शायरी अच्छी रहेगी तो हम उसे वेबसाइट में पब्लिश कर देंगे.
  • instagram follow page

    Below Post Ad