Type Here to Get Search Results !

Home Ads 2

Happy Hareli Tihar CG Hareli | Nangar Tihar हैप्पी हरेली तिहार

 Happy Hareli Tihar CG Hareli | Nangar Tihar Chhattisgarh

Happy Hareli Tihar CG Hareli  Nangar Tihar हैप्पी हरेली तिहार
Happy Hareli Tihar CG Hareli  Nangar Tihar हैप्पी हरेली तिहार

शुभ हरेली .....!

सभी मित्रो को हरेली तिहार की हार्दिक शुभकामनाएं ...! 

छत्तीसगढ़ में हरेली का त्यौहार धूमधाम से मनाया जा रहा है सावन के महीने में हरियाली की चादर ओढ़े धरती का श्रृंगार देखते ही बनाता है। करीब डेढ़ माह तक जीतोड़ मेहनत करते किसान लगभग बुआई और रोपाई का कार्य समाप्त होने के बाद अच्छी फसल की कामना लिये सावन के दूसरे पक्ष में हरेली का त्योहार मनाते हैं। 

इस दिन किसान अपने कृषि उपकरणों की पूजा बड़े की श्रद्धा और उल्लास के साथ करते हैं। किसान खेती किसानी के काम में उपयोग में आने वाले उपकरण जैसे हल, फावड़े, कुल्हाड़ी आदि को साफ धोकर उनकी पूजा करते हैं। किसान लोक पर्व हरेली पर आज खेती-किसानी में काम आने वाले उपकरण और बैलों की पूजा करेंगे। इस दौरान सभी घरों में पकवान भी बनेंगे।

इस दिन कुलदेवता की भी पूजा करने की परंपरा है।  हरेली के दिन ज्यादातर लोग अपने कुल देवता और ग्राम देवता की पूजा करते हैं।साथ ही पशुओं के गोशाला को भी साफ और स्वच्छ कर उसमें नई मिट्टी या मूरूम डालकर सुव्यवस्थित करते हैं। 

ग्रामीण अंचलों में आज भी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ हरेली का पर्व मनाया जाता है। जहां क्या बड़े, क्या बुढ़े सभी इस पर्व का आनंद उठाते हैं। इस पर्व में नारियल फेंक प्रतियोगिता का भी आयोजन कई जगह होते है। हरेली पर्व के माध्यम से छत्तीसगढ़ के किसान भगवान से अच्छी फसल की भी कामना करते है। 

 हरेली के दिन से ही छत्तीसगढ़ की पहचान गेंड़ी जो बांस से बना होता है -उसे  बनाने की और उसमें चढ़ने की शुरूवात होती है। एक तरह से कहा जाए तो हरेली छत्तीसगढ़ में त्योहारों के शंखनाद का दिन होता है। जिसके बाद एक के बाद एक कई त्योहार आते हैं।

किसानों का यह त्यौहार उनकी औज़ार पूजा से शुरू होता है, किसान आज काम पर नहीं जाते घर पर ही खेत के औजार व उपकरण जैसे नांगर, गैंती, कुदाली, रापा इत्यादि की साफ-सफाई कर पूजा करते हैं साथ ही साथ बैलों व गायों की भी इस शुभ दिन पर पूजा की जाती है।

CG Nangar Tihar Quotes Kathan

Shubh Harelee .....! 

Sabhee Mitro Ko Harelee Tihaar Kee Haardik Shubhakaamanaen ...! 


Chhatteesagadh Mein Harelee Ka Tyauhaar Dhoomadhaam Se Manaaya Ja Raha Hai Saavan Ke Maheene Mein Hariyaalee Kee Chaadar Odhe Dharatee Ka Shrrngaar Dekhate Hee Banaata Hai. 


Kareeb Dedh Maah Tak Jeetod Mehanat Karate Kisaan Lagabhag Buaee Aur Ropaee Ka Kaary Samaapt Hone Ke Baad Achchhee Phasal Kee Kaamana Liye Saavan Ke Doosare Paksh Mein Harelee Ka Tyohaar Manaate Hain. 


Is Din Kisaan Apane Krshi Upakaranon Kee Pooja Bade Kee Shraddha Aur Ullaas Ke Saath Karate Hain. Kisaan Khetee Kisaanee Ke Kaam Mein Upayog Mein Aane Vaale Upakaran Jaise Hal, Phaavade, Kulhaadee Aadi Ko Saaph Dhokar Unakee Pooja Karate Hain. 


Kisaan Lok Parv Harelee Par Aaj Khetee-kisaanee Mein Kaam Aane Vaale Upakaran Aur Bailon Kee Pooja Karenge. 

Is Dauraan Sabhee Gharon Mein Pakavaan Bhee Banenge. Is Din Kuladevata Kee Bhee Pooja Karane Kee Parampara Hai. 


Harelee Ke Din Jyaadaatar Log Apane Kul Devata Aur Graam Devata Kee Pooja Karate Hain.saath Hee Pashuon Ke Goshaala Ko Bhee Saaph Aur Svachchh Kar Usamen Naee Mittee Ya Mooroom Daalakar Suvyavasthit Karate Hain. 


Graameen Anchalon Mein Aaj Bhee Bade Hee Harshollaas Ke Saath Harelee Ka Parv Manaaya Jaata Hai. Jahaan Kya Bade, Kya Budhe Sabhee Is Parv Ka Aanand Uthaate Hain.

 Is Parv Mein Naariyal Phenk Pratiyogita Ka Bhee Aayojan Kaee Jagah Hote Hai. Harelee Parv Ke Maadhyam Se Chhatteesagadh Ke Kisaan Bhagavaan Se Achchhee Phasal Kee Bhee Kaamana Karate Hai. 


Harelee Ke Din Se Hee Chhatteesagadh Kee Pahachaan Gendee Jo Baans Se Bana Hota Hai - 

Use Banaane Kee Aur Usamen Chadhane Kee Shuroovaat Hotee Hai. 

Ek Tarah Se Kaha Jae To Harelee Chhatteesagadh Mein Tyohaaron Ke Shankhanaad Ka Din Hota Hai. 


Jisake Baad Ek Ke Baad Ek Kaee Tyohaar Aate Hain. Kisaanon Ka Yah Tyauhaar Unakee Auzaar Pooja Se Shuroo Hota Hai, 

Kisaan Aaj Kaam Par Nahin Jaate Ghar Par Hee Khet Ke Aujaar Va Upakaran Jaise Naangar, Gaintee, Kudaalee, Raapa Ityaadi Kee Saaph-saphaee Kar Pooja Karate Hain Saath Hee Saath Bailon Va Gaayon Kee Bhee Is Shubh Din Par Pooja Kee Jaatee Hai.

संगवारी मन ला हमर यह लिखे गए पोस्ट ह कैसे लगीस कमेंट के माध्यम से जरूर बताहू औउ एला दूसर के संग शेयर करेला भुलाहु मत.

आप मन एला व्हाट्सएप औउ फेसबुक टि्वटर या टेलीग्राम जैसे सोशल मीडिया म शेयर कर सकत हव,

जेकर से यह छत्तीसगढ़ के कोना-कोना म पहुंच सके,अउ सब्बोजन एकर पढ़ के आनंद ले सके.

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Get in Touch Join Whatsapp

ग्रुप लिंक

 

 

  • अपनी शायरी, जोक्स, कविता हमें भेजने के लिए निचे दिए गए अपलोड बटन में क्लिक करके भेजे.
  • अगर आपके द्वारा भेजे गए कविता, जोक्स, शायरी अच्छी रहेगी तो हम उसे वेबसाइट में पब्लिश कर देंगे.
  • instagram follow page

    Below Post Ad